राष्ट्रीय नई शिक्षा नीति युवाओं का भविष्य एवं नए भारत के निर्माण का प्रारंभ है।

भारत सरकार युवा कार्य खेल मंत्रालय तथा शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार एवं उच्च शिक्षा विभाग के आलोक में शिक्षक पर्व के अवसर पर “राष्ट्रीय शिक्षा नीति”-2020 पर ऑन लाइन वेबिनार आयोजित किया गया जिसमें माननीय रक्षा मंत्री आदरणीय श्री राजनाथ सिंह जी, माननीय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के राज्यमंत्री श्री किरेन रिजिजू जी और शिक्षा मंत्रालय से शिक्षा मंत्री आदरणीय श्री रमेश पोखरियाल निशंक आदरणीय श्री संजय धोत्रे जी, संयुक्त सचिव एवं निदेशक आदि सभी ने अपने विचार रखते हुए कहा कि निश्चित ही नई शिक्षा नीति युवाओं का भविष्य एवं नए भारत के निर्माण का प्रारंभ है। रक्षा मंत्री भारत सरकार श्री राजनाथ जी ने कहा कि-अगर जिंदगी सुधारनी है तो व्यापार में निवेश करना चाहिए और अगर पीढ़ी सुधारनी है तो शिक्षा में।उन्होंने बताया कि भारत के युवाओं में अपार ऊर्जा औऱ शक्ति हैं जिसे पहचान कर ही उनके व्यक्तित्व एवं कौशल का विकास किया जा सकता हैं। शिक्षामंत्री आदरणीय श्री रमेश पोखरियाल निशंक जी ने बताया कि- “राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का विचार था कि-“अपने आप को पाने का सबसे अच्छा रास्ता यही है कि दूसरों की सेवा में खुद को समर्पित कर दें।उन्होंने एन सी सी, एन एस एस, एन वाई के तथा उन्नति भारत संगठन के कार्यों की सराहना की। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की मूलभूत बात यह है कि यह कैपेसिटी बिल्डिंग पर फोकस करती है। कैपेसिटी बिल्डिंग से नेशन बिल्डिंग का फार्मूला ही हमें सशक्त बनाएगा। चाहे छात्रों की कैपेसिटी बिल्डिंग हो या फिर शिक्षकों की या फिर संस्थानों की। सभी का साथ लिए बिना व सभी को विस्तार दिए बिना नेशन बिल्डिंग का काम संभव नहीं है।आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और क्वांटम कंप्यूटिंग के दौर में हमारी नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति आधुनिकता के सारे आयामों के साथ बहु-विषयक बहुभाषी पक्षों को भी लेकर चल रही है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से प्रभावित हमारी पीढ़ी को इफेक्टिव इंटेलिजेंस की ओर ले जाया जाए, इसका भी विशेष ध्यान रखा गया है। आगे बताया कि- हमारे युवा, विद्यार्थी, शिक्षक सहित सभी शिक्षा संस्थान नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के ब्रांड एंबेसडर हैं। इसलिए मैं सभी हितधारकों, अभिभावकों, शिक्षकों,NCC/NSS/NYKS जैसे संगठनों से आह्वान करता हूं कि वे नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन हेतु जागरूकता अभियान एवं शिक्षा-संवाद की शुरुआत करें।आदरणीय श्री किरण रिजिजू मंत्री युवा कल्याण एवं खेल मंत्रालय ने नई शिक्षा नीति के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए सभी से इस अभियान को कामयाबी के शिखर पर पहुँचाने में मदद की अपील की।ऑन लाइन वेबिनार में डॉ०अशोक श्रोती क्षेत्रीय निदेशक उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड, डॉ०अंशुमालि शर्मा राज्य संपर्क अधिकारी लखनऊ, डॉ०सोमपाल सिंह, कार्यक्रम समन्वयक रोहिलखण्ड विश्वविद्यालय बरेली के साथ गिन्दो देवी महिला महाविद्यालय बदायूं की राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी असि०प्रो०सरला देवी चक्रवर्ती सहित अधिक से अधिक संख्या में स्वयंसेविकाओं एवं स्वयंसेवकों ने प्रतिभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कॉपीराइट अधिनियम के अनुसार इस न्यूज़ पोर्टल का कंटेंट कॉपी करना गैरकानूनी है