विद्युत करंट से लाइनमैन की मौत, खंड विकास कार्यालय पर शव रखकर किया प्रदर्शन, 5 लाख की सहायता मिली

बदायूँ -विद्युत वितरण खंड उझानी के अंतर्गत आने वाले विद्युत उप केंद्र असरासी पर कार्यरत लाइनमैन चरन सिंह पुत्र डालचंद मौर्य गांव सकरी जंगल मे सोमवार को करीब पांच बजे एक मोबाइल टावर की कंप्लेंट सही करने गया था। लाइन का अनुरक्षण कार्य करते समय लाइन में अचानक 33/11KVA का हवाई करंट दौड़ जाने की वजह से वह पोल से नीचे गिर गया। इलाज को ले जाते समय रास्ते में उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना पर परिजनों में कोहराम मच गया। पोस्टमार्टम कराने के बाद उसके शव को खंड कार्यालय उझानी पर ले जाकर रख दिया। परिजनों ने विभागीय निर्देशानुसार मिलने वाली तात्कालिक सहायता राशि 5 लाख रुपए का चैक देने की मांग की। इस पर विभागीय अधिकारी चेक देने में आनाकानी करने लगे, सूचना पर उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन निविदा संविदा कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष ठाकुर धीरेंद्र कुमार सिंह और केंद्रीय यूनिट के सदस्य हरीश चंद्र यादव अपनी पूरी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। इनके पहुंचने से पहले परिजनों ने शव को अधिशासी अभियंता कार्यालय के सामने रखकर चेक देने की मांग करने लगे थे। संगठन पदाधिकारियों और विभागीय अधिकारियों के बीच काफी तीखी नोकझोंक हुई विभागीय अधिकारियों ने परिजनों व संगठन के पदाधिकारियों पर दबाव बनाने के लिए पुलिस फोर्स को बुला लिया था लेकिन सिटी इंचार्ज शिवेंद्र सिंह भदोरिया ने विभागीय आदेश देखकर पुलिस प्रशासन ने संगठन पदाधिकारियों की मांग को जायज मानते हुए अधिशासी अभियंता उझानी को फटकार लगाते हुए मृतक की पत्नी रूबी देवी को संगठन पदाधिकारियों की मौजूदगी में तात्कालिक सहायता राशि 5 लाख रुपए का चैक दिलाया।
इस दौरान जिला कोषाध्यक्ष प्रेमपाल प्रजापति, खंडी अध्यक्ष जापान सिंह, जिला महामंत्री सतपाल शर्मा, जिला इकाई के सदस्य पप्पन मियां, अनिल कुमार पाल, मुकेश कुमार, राम प्रकाश भारती, आदि ग्राम वासी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कॉपीराइट अधिनियम के अनुसार इस न्यूज़ पोर्टल का कंटेंट कॉपी करना गैरकानूनी है